घर का मंदिर देखकर जानिए, पारिवारिक सदस्यों के आंतरिक रहस्य

Posted by 4Remedy 16/07/2016 0 Comment(s) Vastu,
वास्तु के अनुसार घर के मंदिर का प्रभाव परिवार के सदस्यों के कार्यों और मानसिकता पर असर डालता है। किसी भी घर के मंदिर कोे देखकर वहां रहने वाले लोगों के आंतरिक रहस्य जाने जा सकते हैं। आईए जानें कैसे- 

 

1 जिस घर के नैऋत्य में पूजा घर हो उन्हें पेट संबंधी कष्ट होते हैं। वे अत्यधिक लालची होते हैं।

 

 जिस घर में दो पूजा के कमरे होते है उस घर के मुखिया के पास एक से अधिक संपत्ति, जमीन, स्टेट या मकान अवश्य होता है व उस घर के बेटे की आमदनी के स्रोत भी दो होते हैं।

 

जिन घरों में पूजाकक्ष ड्राईंग रूप से लगे होते हैं या वहीं पर होते है, उस घर का मुखिया बुद्धिमान होता है।

 

जिन घरों में अलग से पूजा कक्ष न होकर ड्राइंगहॉल में ही भगवान के फोटो या मूर्ति लगे होते है उस घर के सदस्य बुद्धिमान होते हैं।

 

जिन घरों में पूजा कक्ष का उपयोग बेडरूम के लिए भी किया जाता है वहां सोने वाली महिलाएं धार्मिक प्रवृत्ति की होती है, परंतु बिना किसी कारण के वाद-विवाद करती है, पर हां वे पैसे की अच्छी खासी बचत कर लेती हैं।

 

6 जिन घरों में पूजा घरों में साफ-सफाई नहीं रहती, वहां अंधेरा रहता है या घर का कबाड़ पड़ा रहता है उन घरों में रहने वालों को शत्रुओं से समस्याएं रहती है। आर्थिक नुक्सान होता है एवं हमेशा बीमारी बनी रहती है।

 

7  जिन घरों में देवताओं की मूर्ति खण्डित हो, तस्वीर टूटी हुई हो, चित्र फटे हुए वहां के मुखिया के लिए अत्यधिक अशुभ होता है।

 

रसोईघर में पूजा स्थल होने से घर वाले गरम दिमाग के होते है। परिवार में किसी को रक्त संबंधी शिकायत होती है।

धन, सुख एवं संतान के रूप में पुत्र चाहिए तो इस प्रकार से करें गौ पूजन तथा सेवा 

 

शस्त्रों के अनुसार भूल से भी नहीं मांगनी चाहिए ये 6 चीजे अन्यथा आती है कंगाली ! 

 

Write a Comment