घर में क्यों नहीं होने चाहिए 2 शिवलिंग? जानिए इसका अशुभ परिणाम

Posted by Admin 19/08/2016 0 Comment(s) Vastu,

घर में क्यों नहीं होने चाहिए 2 शिवलिंग? जानिए इसका अशुभ परिणाम

वास्तु प्रकृति की ऊर्जा के कुशल उपयोग पर आधारित विज्ञान है। प्रकृति की ऊर्जा का सही इस्तेमाल जीवन में सुख, समृद्धि और उन्नति प्रदान करता है, वहीं इसका गलत उपयोग जीवन की अवधि कम करता है और मनुष्य को रोग, शोक तथा दुखों की प्राप्ति होती है। जानिए वास्तु की ऐसी अनमोल बातें जो आपका जीवन खुशहाल बना सकती हैं।

 

1- घर में दो शिवलिंग, तीन गणेश, दो शंख, दो सूर्य प्रतिमाएं, जगदंबा की तीन प्रतिमाएं और दो शालिग्रामजी का  पूजन नहीं करना चाहिए। इससे भक्ति का फल नहीं मिलता और दुखों की प्राप्ति होती है। वास्तु के अनुसार इससे घर का वातावरण अशांत रहता है।

 

sleep

 

2- जो मनुष्य अपने परिवार में शुभत्व और समृद्धि चाहता है उसे घी, अन्न, अग्नि, देवता और गुरु के स्थान के ऊपर शयन नहीं करना चाहिए यानी उस स्थान के ऊपर उसके सोने की जगह नहीं होनी चाहिए।

 

3- घर में देवताओं की बहुत अधिक मूर्तियां नहीं होनी चाहिए। साथ ही बहुत बड़ी प्रतिमाएं घर में रखने का निषेध है। बड़ी प्रतिमाएं किसी मंदिर में स्थापित कर दें जहां उनका पूजन हो सके।

 

4- रात्रि को पूर्व या दक्षिण की ओर सिर करके सोना चाहिए। उत्तर या पश्चिम दिशा की ओर सिरहाना करेंगे तो इससे अशुभ परिणाम मिलेगा। वास्तु के अनुसार इससे मनुष्य की आयु कम होती है।

 

5- पश्चिम और उत्तर की तरफ सिरहाना रोगकारी होता है। दक्षिण की ओर सिरहाना धन तथा लंबी आयु देता है। पूर्व की ओर सिरहाना होने से जीवन में सकारात्मकता का प्रवेश होता है। पश्चिम की ओर सिरहाना चिंता तथा दुर्भाग्य प्रदान करता है।

 

Write a Comment