धनु राशिफल 2016 - Dhanu Rashifal

Posted by 4Remedy 24/12/2015 0 Comment(s) Rashi,

                                               

                                   धनु राशिफल 2016 - Dhanu Rashifal

नए साल के आग़ाज़ होने में मात्र कुछ ही दिन शेष बचें हैं। इसे लेकर आपके मन में कुछ हलचल भी हो रही होगी। जैसे - आने वाले साल में क्या कुछ ख़ास होगा? नौकरी मिलेगी या नहीं? शादी होगी या नहीं? आर्थिक स्थिति कैसी रहेगी? ऐसे ही बहुत सारे सवाल होगें जो आपको परेशान कर रहें होंगे। आइए सबसे पहले शुरू करते हैं सितारों (ग्रहों) की चाल से, क्योंकि पूरा ज्योतिष ग्रहों की चाल पर ही आधारित है। वर्ष की शुरूआत में शनि वृश्चिक के साथ तथा बृहस्पति सिंह के साथ दिखाई दे रहे हैं। राहु और केतु अपनी इस वर्तमान अवस्था में रहने के पश्चात् अर्थात् 31 जनवरी के बाद क्रमशः सिंह और कुम्भ में प्रवेश करेंगे। चलिए अब एक सरसरी निग़ाह डालते हैं ज़िन्दगी की महत्वपूर्ण पहलूओं पर।

पारिवारिक जीवन

Dhanu Rashifal 2015 in Hindiगृहस्थ जीवन की बात करें तो पारिवारिक सदस्यों के साथ कुछ तर्क-वितर्क होने की संभावना नज़र आ रही है। हालाँकि गुस्सा और समझदारी से इसे टाला जा सकता है। जीवनसाथी और माता के साथ संबंध बहुत ही आनंदित करने वाले रहेंगे। ऐसे समय में आपको और क्या चाहिए जब जीवनसाथी और माता आपकी सुरक्षा कवच के रूप में खड़ी हैं? हालाँकि भाई के साथ संबंध थोड़े बिगड़ सकते हैं। वैसे यह ज़रूरी नहीं कि सहकुछ आपकी जन्मपत्री के अनुरूप ही हो, कुछ परिस्थितियाँ आपके व्यवहार पर भी निर्भर करती है। केतु की महादशा की स्थिति में ज़्यादा तक़रार होने की संभावना है। शनि की महादशा की स्थिति में भी आपको ज़्यादा सतर्क रहने की आवश्यकता है। पिता के साथ कुछ मतभेद हो सकता है और आप दोनों के बीच हमेशा कुछ न कुछ तनाव भी रहने वाला है। अगस्त के बाद यह तनाव ख़त्म हो जाएगा और संबंधों में मधुरता आएगी।

 

स्वास्थ्य

दूषित रक्त और दूषित भोजन जनित रोग होने की संभावना है। अतः बेहतर स्वास्थ्य के लिए इन सब चीज़ों से दूरी बनाकर रहें। खान-पान पर ध्यान दें, वरना लिवर में कुछ दिक्क़तें हो सकती हैं। इसके प्रति गंभीर रहें और ज़्यादा तेलयुक्त आहार लेने से बचें। आँखों में समस्या हो सकती है और चश्मा भी लग सकता है। जिन लोगों को पहले ही चश्मा लग चुका है उनकों चश्में का नंबर बढ़वाना पड़ सकता है। आपके उत्साह में कमी रहेगी और कमज़ोरी महसूस होगी।

 

आर्थिक जीवन

इस साल आपके आर्थिक जीवन में सितारों का कुछ ज़्यादा ही हस्तक्षेप होने वाला है। शनि आपके दूसरे भाव का स्वामी है, जो आपके बारहवें भाव मेेेें प्रवेश कर रहा है। यदि शनि की दशा चल रही है तो अधिक सतर्कता बरतने की ज़रूरत है। जितना ज़्यादा हो सके धन की बचत करने की कोशिश करें और फ़िज़ूल के ख़र्चों पर नियंत्रण रखें। आपका कोई क़रीबी ही आपको दग़ा दे सकता है। ऐसे लोगों से बचने से के लिए किसी भी प्रकार के वित्तीय लेनदेन मेेेें पूरी सावधानी बरतें। यदि वह आपसे उधार मांग रहा/रही हो तो बेहद ही सावधान रहें। गुरू की महादशा से गुजरने वालों के लिए भी यही सलाह है। किसी भी दस्तावेज़ पर दस्तख़त करने की ग़लती न करें, क्योंकि इसके लिए आपके साथ ज़ोर-जबरदस्ती भी की जा सकती है।

 

नौकरी पेशा

कार्यरत लोगों के लिए यह वर्ष किसी वरदान से कम साबित नहीं होगा। हालाँकि धन के आगमन वर्ष की शुरूआत से ही होगी, लेकिन अगस्त के बाद इसमें अप्रत्याशित रूप से वृद्धि होगी। कार्यस्थल पर आपके कार्यों मे निखार देखने को मिलेगा और आय में वृद्धि होगी। आपके भाग्य में चार चांद तब लग जाएगा जब वरिष्ठ आपकी हर कदम पर मदद करेंगे। आपके प्रदर्शन से आपके आगे के कॅरियर को काफ़ी लाभ होगा। हालाँकि यह सब अगस्त माह के बाद होगा। इस माह से पूर्व अपने वरिष्ठों को संतुष्ट करने की कोशिश करें और अच्छा व्यवहार करें। यदि इस समय को बेहतर तरीके से व्यतीत करते हैं तो यह आपकी सफ़लता की नींव साबित हो सकता है।

 

कारोबार

वैसे लोग जिनका अपना व्यवसाय है, उन्हें बेहतर लाभ मिलने वाला है। आर्थिक फ़ैसले लेते समय पूरी सावधानी बरतें अन्यथा भारी नुकसान उठाना पड़ सकता है। जल्दबाजी में कोई निर्णय न लें, ग़लत-सही का चुनाव करने के बाद ही निर्णय लें। निश्चित तौर पर आपको बेहतर परिणाम मिलेगा। ग़ैरकानूनी तरीक़ों से धन कमाने की कोशिश न करें, वरना सकारात्मक परिणामों की जगह आपको नकारात्मक परिणाम मिल सकता है और आप सलाखों के पीछे भी जा सकतेे हैं। अर्जित की हुई संपत्ति को व्यर्थ में न गवाएँI सभी प्रकार के वित्तीय मामलों में पारदर्शिता बरतें।

 

प्रेम-संबंध

प्यार और रोमांस के लिहाज़ से यह साल औसत रहने वाला है। इस साल आपको किसी ख़ास समस्या से दो-चार होना नहीं पड़ेगा। सब कुछ सहज़ तरीके से होने वाला है। यदि आप किसी के साथ रिश्ते निभा रहे हैं तो रिश्तों के बीच किसी प्रकार के संदेह को पैदा न होने दें, क्योंकि अगस्त तक का समय आपके अनुकूल नहीं है। इस माह के बाद आपकी ज़िन्दगी प्यार और रोमांस से परिपूर्ण होने वाली है।

 

सेक्स लाइफ़

इस साल आपको बेहतर यौनसुखों और आत्मसंतुष्टी की प्राप्ति होने वाली है। जीवनसाथी का प्रेमपूर्ण रवैया आप दोनों को और क़रीब लाएगा। यौनसुखों की ज़्यादा चाह, किसी अवैध संबंधों को जन्म दे सकती है। अतः इसके प्रति आकर्षित होने से परहेज़ करें। कुछ लोगों का अपने साथी के अलावा किसी अन्य से भी शारीरिक संबंध हो सकता है, लेकिन इससे दूर ही रहें तो बेहतर होगा।

 

सावधानी बरतने वाले दिन

आपके लिए यही बेहतर होगा कि जब चंद्रमा सिंह, वृश्चिक और कुम्भ में प्रवेश करे तब अपने ग़ुस्से पर काबू रखें और शांत रहने की कोशिश करें। इस अवधि में महत्वपूर्ण निर्णयों को कुछ दिन के लिए टाल दें। ख़ुदा न ख़ास्ता कोई तर्क-वितर्क हो भी जाए तो उसमें ज़्यादा संलिप्त होने से बचें। 15 मई से 20 मई, 16 जुलाई से 15 अगस्त, 16 नवंबर से 17 दिसंबर के बीच नए सामान की ख़रीदारी न करें और इस अवधि में किसी प्रकार का निवेश भी न करें।

उपाय

कहीं भी अपने विचारों को स्पष्ट तरीके से रखना सिखें। ग्रहों के कुप्रभावों से बचने के लिए जितना अधिक हो सकें रामचरित मानस का पाठ करें। रामरक्षा स्त्रोत का पाठ करना भी आपके लिए फ़ायदेमंद होगा। जब आप मुश्किल परिस्थिति में हों तो इसका पाठ करें, तुरंत ही लाभ होगा।

Write a Comment